Breaking News

251 नए स्वर्ण ऋण शॉपी का बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने किया शुभारंभ

भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के अग्रणी बैंकों में से एक, बैंक ऑफ़ बड़ौदा (बैंक) ने देश भर में 251 नए स्वर्ण ऋण शॉपी के शुभारंभ की घोषणा की। बैंक का स्वर्ण ऋण शॉपी दरअसल बैंक की शाखा में इस सुविधा के लिए खास तौर पर तैयार किया गया एक कक्ष होता है, जहाँ ग्राहकों को केवल स्वर्ण ऋण से संबंधित सेवाएँ उपलब्ध कराई जाती हैं। स्वर्ण ऋण शॉपी ग्राहकों को उनकी निजी जरूरतों के अनुरूप तुरंत सेवा प्रदान करता है, साथ ही उनकी गोपनीयता का भी पूरा ध्यान रखा जाता है। इस शुभारंभ के साथ, अब देश भर में बैंक के स्वर्ण ऋण शॉपी की कुल संख्या कुल 1,238 हो गई है।

बैंक के प्रत्येक स्वर्ण ऋण शॉपी में एक प्रभारी अधिकारी के साथ-साथ आभूषणों की कीमत निर्धारित करने के लिए कम-से-कम दो जांचकर्ता मौजूद होते हैं, ताकि सभी कार्य दिवसों पर आभूषणों के जांच की सेवाएँ उपलब्ध हो सकें। इसके अलावा, प्रभारी अधिकारी के पास अपने विवेक के आधार पर ऋण को मंजूरी देने का अधिकार होता है, जिससे ऋण को तुरंत मंजूरी मिलती है और इस प्रक्रिया को पूरा करने में लगने वाला समय भी काफी कम हो जाता है।

इस अवसर पर अजय के. खुराना, कार्यपालक निदेशक, बैंक ऑफ़ बड़ौदा, ने कहा, “हमें 251 नए स्वर्ण ऋण शॉपी का शुभारंभ करते हुए बेहद खुशी हो रही है। बैंक के स्वर्ण ऋण कारोबार में और तेजी आई है, और हमें पूरा विश्वास है कि हमारे स्वर्ण ऋण शॉपी हमें एक गुणवत्तापूर्ण स्वर्ण ऋण पोर्टफोलियो के विस्तार और निर्माण में मदद करने में अहम भूमिका निभाएंगे। बैंक ऑफ़ बड़ौदा बहुत प्रतिस्पर्धी ब्याज दरों पर गोल्ड लोन की पेशकश कर रहा है, और ग्राहकों को बिना किसी प्रक्रिया शुल्क के 3 लाख रुपये तक की बढ़ी हुई ऋण-सीमा तक ऋण पाने की
सुविधा भी है। इसके अलावा, हम इस बात का भी ध्यान रखते हैं कि ग्राहकों को गिरवी रखे गए सोने का सबसे बेहतर मूल्य मिले।ष्

बैंक की ओर से उत्तर प्रदेश गुजरात, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब और हरियाणा, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल राज्यों में 251 नए स्वर्ण ऋण शॉपी का शुभारंभ किया गया है।

 

 

About ATN-Editor

Check Also

सी.आई.आई. यू.पी. एम.एस.एम.ई सम्मेलन

भातीय उद्योग परिसंघ उत्तर प्रदेश ने  लखनऊ में सी.आई.आई. यू.पी. एम.एस.एम.ई सम्मेलन का आयोजन किया*, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *