Breaking News

मुख्यमंत्री घटना स्थल पर,

मुंबई रायगढ़ जिले के खालापुर के पास इरशालवाड़ी की बस्ती में कल रात भूस्खलन की सूचना मिलने पर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे तुरंत मौके पर पहुंचे। मुख्यमंत्री श्री शिंदे ने राहत एवं बचाव कार्य का जायजा लिया और संबंधित मशीनरी को राहत व बचाव कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। इस अवसर पर रायगढ़ जिले के पालक मंत्री उदय सामंत, सार्वजनिक निर्माण कार्य (सार्वजनिक उपक्रम) मंत्री दादा भुसे, विधायक महेश थोरवे, विधायक महेश बालदी, विभागीय आयुक्त महेश कल्याणकर, रायगढ़ के जिलाधिकारी डॉ. योगेश म्हसे मौजूद थे।

भारी बारिश और कठिन रास्ते के कारण बचाव कार्य में बाधा आ रही है, लेकिन मौसम में सुधार होते ही हेलीकॉप्टरों की मदद ली जाएगी। एनडीआरएफ की टीमें मौके पर पहुंच गई हैं और स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर बचाव कार्य युद्धस्तर पर जारी है। मुख्यमंत्री के आह्वान पर इलाके के एमआईडीसी के कर्मचारी एनडीआरएफ की मदद के लिए मौके पर पहुंच गए हैं।

मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपए आर्थिक सहायता

मुख्यमंत्री श्री शिंदे ने घटनास्थल का जायजा लेने के बाद ग्रामीण से जाकर मुलाकात की और उनका हालचाल पूछा। मुख्यमंत्री ने घोषित किया कि मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी और घायलों का सारा इलाज का खर्च सरकार वहन करेगी। साथ ही उन्होंने सरकार की ओर से हर तरह की मदद देने का आश्वासन दिया।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने की पूछताछ, मदद का आश्वासन

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से फोन पर हादसे की जानकारी ली। उन्होंने बचाव अभियान में हरसंभव मदद देने का आश्वासन दिया। केंद्रीय गृह मंत्री श्री शाह ने कहा कि लोगों को घटना स्थल से बाहर निकालना और घायलों को तुरंत इलाज को प्राथमिकता दी जानी चाहिए।

उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने दी दुर्घटना के मृतकों को श्रद्धांजलि

श्श्हम इरशालगढ़ दुर्घटना में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के दुख में शामिल हैं।श्श् इन शब्दों में उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मृतकों को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि घटना की जानकारी मिलने के बाद मैं कल रात से ही स्थानीय प्रशासन के संपर्क में हूं। एनडीआरएफ की टीमें मौके पर पहुंच गई हैं। भारी बारिश और अंधेरे के कारण शुरुआत में मदद कार्य में बाधा आई, लेकिन अब मदद कार्य तेजी से हो रहा है। घायलों के तत्काल इलाज की व्यवस्था की गई है. उपमुख्यमंत्री श्री फडणवीस ने कहा है कि हम स्थिति और राहत व बचाव कार्यों पर लगातार नजर रखे हुए हैं।

उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने मंत्रालय के आपातकालीन नियंत्रण कक्ष से ली जानकारी

उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने आज सुबह ही मंत्रालय के आपातकालीन नियंत्रण कक्ष में पहुंचकर दुर्घटना के लोगों के बचाव और मदद कार्य का संनियंत्रण किया।

मंत्री अदिती तटकरे ने अस्पताल पहुंचकर जाना घायलों का हालचाल

महिला व बाल कल्याण मंत्री अदिती तटकरे ने कलंबोली स्थित एमजीएम अस्पताल जाकर वहां इलाज करा रहे घायलों का हालचाल जाना। मरीजों का समुचित इलाज किया जाए और अगर इस दुर्घटना में घायलों की संख्या बढ़ती है तो प्रशासन तैयार रहे। यह सूचना उन्होंने अस्पताल के संबंधित अधिकारियों को दी। इस अवसर पर एमजीएम के डॉ. सागर, पनवेल महापालिका के डॉ. गोसावी, नायब तहसीलदार पनवेल श्री लाचके उपस्थित थे।

 

शिवभोजन थाली पैकेट का मुफ्त वितरण

आवश्यक अनाज भी दिया जाएगा

शिवभोजन थाली के पैकेट का मुफ्त वितरण दुर्घटना प्रभावितों को किया जाएगा। इसके अलावा पांच लीटर मिट्टी का तेल, 10 किलो चावल, 10 किलो गेहूं या उसका आटा, अन्य राशन भी दिया जाएगा। जब तक स्थिति सामान्य नहीं हो जाती, तब तक आपूर्ति जारी रहेगी।

संपर्क के लिए हेल्पलाइन नंबर

चौक दूरक्षेत्र में एक अस्थायी कंट्रोल रूम तैयार किया गया है। पुलिस निरीक्षक कालसेकर को नियुक्त किया गया है और उनका मोबाइल नंबर 8108195554 है।

नागरिकों से अपील

भारतीय मौसम विभाग ने राज्य के कुछ जिलों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी दी है। पिछले दो दिनों से राज्य में कई जगहों पर भारी बारिश हो रही है। राज्य सरकार ने नागरिकों से इरशालवाड़ी में भीड़ न लगाने की अपील की है। भारी बारिश की आशंका को देखते हुए राज्य सरकार ने अपील की है कि नागरिक घर से बाहर न निकलें, अगर बहुत जरूरी और जरूरी काम हो तभी बाहर निकलें।

 

 

About ATN-Editor

Check Also

राजनीतिक दलों और उनके प्रतिनिधियों को सोशल मीडिया मंचों के जिम्मेदारी के साथ और नैतिक उपयोग के निर्देश

गलत सूचना और कृत्रिम सामग्री से निपटने के लिए मौजूदा कानूनी ढांचे को विशेष रूप …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *