Breaking News

चुनाव आयोग के राष्ट्रीय आइकन के रूप में क्रिकेट लेजेन्ड भारत रत्न सचिन तेंदुलकर

खेल मैचों के दौरान जो दिल टीम इंडिया के लिए धड़कते हैं, वे मतदान करके हमारे लोकतंत्र को आगे ले जाने के लिए भी उसी तरह धड़केंगेः सचिन तेंदुलकर

तेंदुलकर अधिक से अधिक मतदाताओं को वोट डालने के लिए प्रेरित करने में आदर्श विकल्प हैं – मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार

पूजा श्रीवास्तव

भारत निर्वाचन आयोग का उद्देश्य नागरिकों, विशेष रूप से युवाओं और शहरी आबादी व चुनावी प्रक्रिया के बीच की खाई को पाटना है, जिससे शहरी और युवा उदासीनता की चुनौतियों का समाधान हो सके। इस के लिए क्रिकेट लेजेन्ड और भारत रत्न सचिन रमेश तेंदुलकर को भारत निर्वाचन आयोग ने राष्ट्रीय आइकन के रूप में तीन सालों के समझौता किया है । यें बातें मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार और चुनाव आयुक्त अनूप चंद्र पाण्डेय तथा अरुण गोयल की मौजूदगी में नई दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में कही।

भारत निर्वाचन आयोग के राष्ट्रीय आइकन के रूप में अपनी भूमिका में सचिन तेंदुलकर ने इस मुद्दे के प्रति अपना उत्साह और प्रतिबद्धता व्यक्त की और कहा कि भारत जैसे जीवंत लोकतंत्र के लिए युवा राष्ट्र निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। खेल मैचों के दौरान जो दिल टीम इंडिया के लिए एक स्वर में इंडिया, इंडिया के जयकार के साथ धड़कते हैं, वे हमारे अनमोल लोकतंत्र को आगे ले जाने के लिए भी उसी तरह धड़केंगे। ऐसा करने का एक सरल लेकिन सबसे शक्तिशाली तरीका नियमित रूप से अपना वोट डालना है।

उन्होंने इस अवसर पर कहा कि स्टेडियमों में भीड़ से लेकर मतदान केंद्रों पर भीड़ तक, राष्ट्रीय टीम के साथ खड़े होने से लेकर वोट डालने के लिए समय निकालने तक हम जोश और उत्साह बनाए रखेंगे। जब देश के कोने-कोने से युवा चुनावी लोकतंत्र में बड़ी संख्या में भाग लेंगे तो हम अपने देश के लिए एक समृद्ध भविष्य देखेंगे।

मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने कहा कि सचिन तेंदुलकर न केवल भारत में बल्कि विश्व स्तर पर भी प्रतिष्ठित प्रतीक हैं और उनकी एक विरासत है जो उनके क्रिकेट कौशल से कहीं अधिक है। श्री राजीव कुमार ने कहा कि उनका शानदार करियर उत्कृष्टता, टीम वर्क और सफलता के अथक प्रयास के प्रति उनकी प्रतिबद्धता का प्रमाण है। मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि उनका प्रभाव खेलों से परे है, जिससे वह भारत निर्वाचन आयोग के साथ सहयोग करने और मतदाताओं को आकर्षित करने के लिए एक आदर्श विकल्प बन गए हैं।

इस सहयोग में कई गतिविधियां शामिल होंगी, जिनमें तेंदुलकर द्वारा विभिन्न टीवी टॉक शो/कार्यक्रमों और डिजिटल अभियानों आदि में मतदाता जागरूकता को बढ़ावा देना शामिल है, जिसका उद्देश्य मतदान के महत्व और राष्ट्र की नियति को रूप देने में इसकी भूमिका के बारे में जागरूकता बढ़ाना है।

इस कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के छात्रों ने लोकतंत्र की मजबूती में मतदान के महत्व पर एक प्रभावशाली नाटक भी प्रस्तुत किया।

गौरतलब है कि भारत निर्वाचन आयोग विभिन्न क्षेत्रों के प्रसिद्ध भारतीयों के साथ स्वयं को जोड़ता है और लोकतंत्र के पर्व में भागीदारी के लिए मतदाताओं को प्रेरित करने के लिए उन्हें भारत निर्वाचन आयोग के राष्ट्रीय आइकन के रूप में नामित करता है। आयोग ने पिछले वर्ष प्रसिद्ध अभिनेता पंकज त्रिपाठी को राष्ट्रीय आइकन के रूप में मान्यता दी थी। इससे पहले 2019 के लोकसभा चुनावों के दौरान एमएस धोनी, आमिर खान और मैरी कॉम जैसे दिग्गज भारत निर्वाचन आयोग के राष्ट्रीय आइकन थे।

About ATN-Editor

Check Also

अभद्र और अश्लील कन्टेन्ट वाले 18 ओटीटी प्लेटफाम ब्लॉक

ओटीटी प्लेटफार्मों की 19 वेबसाइटों, 10 ऐप्स, 57 सोशल मीडिया हैंडल की सामग्री पर राष्ट्रव्यापी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *