Breaking News

सहारा हास्पिटल में झण्डारोहण, शांति का प्रतीक उड़ाए कबूतर, मरीजों को फल बांटे

 

सहारा हॉस्पिटल में हुआ पैथोलॉजी म्यूजियम का हुआ उद्घाटन

 

77 वें स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य पर मंगलवार को सहारा हास्पिटल गोमतीनगर में कई कार्यक्रम आयोजित किये गये। इस अवसर पर सहारा इंडिया परिवार के सीनियर एडवाइजर श्री अनिल विक्रम सिंह जी एवं सहारा हॉस्पिटल के मेडिकल डायरेक्टर डॉक्टर मजहर हुसैन ने संयुक्त रूप से झण्डारोहण किया और हास्पिटल के सभी डाक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ ने सामूहिक रूप से राष्ट्रगान किया। कार्यक्रम के अगले क्रम में उन्होंने शांत के प्रतीक कबूतर और गुब्बारे हवा में उड़ाए। इसके बाद श्री सिंह ने मुख्य अभिभावक माननीय “सहाराश्री” जी का संदेश पढ़ा। इसके अतिरिक्त उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता दिवस हमारे के लिए गर्व का दिन है, क्योंकि इसे सहारा इंडिया परिवार भारत पर्व के रूप में मनाता है। उन्होंने कहा कि जिस टीम भावना से हास्पिटल की पूरी टीम में अपने कार्य को संपादित किया है, उससे हम निरंतर प्रगति पर आगे बढ़े हैं। इस संकल्प को भविष्य में भी बनाए रखने की जरूरत है। कार्यक्रम इसके बाद भारत माता की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की और वार्ड में भर्ती मरीजों को फल वितरण का कार्यक्रम सम्पन्न किया।

 

हास्पिटल में पैथालॉजी म्यूजियम का उद्घघाटन भी सहारा इंडिया परिवार के सीनियर एडवाइजर श्री अनिल विक्रम सिंह जी एवं सहारा हॉस्पिटल के मेडिकल डायरेक्टर डॉक्टर मजहर हुसैन ने संयुक्त रूप से किया। इस प्रदर्शनी के आयोजन में पैथालॉजी की हेड डा. अंजू शुक्ला, डा. विपुल,डा. सुरभि, डॉ. शारेह एवं डॉ.प्रियंका और समस्त टीम का सहयोग रहा। डा. अंजू शुक्ला ने बताया कि यह म्यूजियम सभी कार्य दिवस में खुला रहेगा, इसमें मरीज या तीमारदार को यह समझाने में आसानी रहेगी कि कैंसर और नान कैंसर सम्बंधित गम्भीर बीमारियां कैसी दिखती हैं। इसके अलावा मेडिकल की पढ़ाई करने वालों के लिए यह काफी ज्ञानवर्धन सिद्ध होगा।

 

इस अवसर पर सहारा इंडिया परिवार के सीनियर एडवाइजर श्री अनिल विक्रम सिंह जी ने कहा कि हमारे माननीय अभिभावक सहाराश्री जी का विजन रहा है कि जीवन में शांति, सच्चा सुख, आत्मसंतोष और संतुष्टि पाने तथा साथ ही भौतिक उपलब्धियों, सम्मान और प्यार के अर्थ में निरंतर प्रगतिशील बने।

 

उन्होंने बताया कि सहारा हॉस्पिटल का मानना है कि क्लीनिकल केयर के साथ हमारी भावी पीढ़ियों के लिए शिक्षण व प्रशिक्षण होना बहुत जरूरी है। नये नये इलाज के लिए खोज और लोगों की गंभीर प्रक्रियाओं को समझने के लिए निरंतर रिसर्च आवश्यक है। इस दिशा में सहारा हॉस्पिटल ने सकारात्मक कदम उठाते हुए मेडिकल और नर्सिंग छात्र छात्राओं पैथोलॉजी के लिए संग्रहालय की स्थापना की। सहारा हॉस्पिटल में इस म्यूजियम सभी बीमारियों से संबंधित कैंसर व नान कैंसर ट्यूमर का प्रर्दशन किया गया है और यदि जीवन विज्ञान स्ट्रीम के छात्र और शिक्षक या जिज्ञासु व्यक्ति इस म्यूजियम में विभिन्न ट्यूमर देखने के इच्छुक हैं, तो पहले से एपाइन्टमेट लेकर देख सकते हैं।

सहारा हॉस्पिटल इस ज्ञान को आपके साथ साझा करने को तैयार है और हमारे डॉक्टर भी उसे समझाने और उनके सभी प्रश्नों का समाधान के‌ लिए उपलब्ध रहेंगे।

About ATN-Editor

Check Also

सहारा हास्पिटल के प्लास्टिक सर्जन डॉक्टरों की टीम नित नए मुकाम हासिल कर निरंतर लोगों को सफल इलाज प्रदान कर रही है- अनिल विक्रम

सीतापुर के निवासी 30 वर्षीय संदीप नाम के मरीज की किचन में आटा मशीन में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *