Breaking News

’हर वर्ग की पहली पसंद बन रहा है खादी- यूपी एमएसएमई मंत्री राकेश सचान

10 दिवसीय यू.पी. स्टेट मेगा एक्सपो 2023 का समापन

खादी फॉर नेशन खादी फॉर फैशन की परिकल्पना प्रधानमंत्री दी गयी मंत्रा के बाद हर वर्ग में खादी के उत्पादों को लेकर नया जोश और दिवांगी अब दिखने लगी है। रेशम, खादी व अन्य हथकरघा वस्त्रों की मांग व बिक्री लगातार बिक्री बढ़ रही है। डिजाइनर खादी लोगों के बीच काफी पसंद की जा रही है। मा. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ‘मन की बात’ कार्यक्रम के मंच से खादी को अपनाने का आह्वान किए जाने के बाद से खादी राजनैतिक गलियारों से निकलकर, आमजनों तक पहुंची है। यें बातें उ.प्र. स्टेट मेगा एक्स्पो के समापन समारोह पर उत्तर प्रदेश सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम, हथकरघा, वस्त्रोद्योग विभाग के मंत्री राकेश सचान ने इंद्ररा गांधी प्रतिष्ठान लखनऊ में कहीं


उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जब सबकुछ ठप हो गया था, तब उत्तर प्रदेश के जो कारीगर अन्य प्रदेशों में काम कर रहे थे, उन्हें भी यहां वापस आने पर एमएसएमई के माध्यम से रोजगार दिया गया। परम्परागत उद्योग ही उनकी ताकत बने और जो निर्यात पहले 88 हजार करोड़ रु. का हुआ करता था, वह बढ़कर 1 लाख 60 हजार करोड़ रु. हो गया। श्री सचान ने बताया कि रेशम व खादी का उत्पाद को बढ़ाने के लिए आईआईएम इंदौर, फ्लिपकार्ट, निफ्ट रायबरेली, एमिटी यूनिवर्सिटी, इंडो-अमेरिकन चौम्बर ऑफ कॉमर्स के साथ एमओयू साइन किए जा रहे हैं।

सम्मानित हुए एक्जिबिटर्स उ.प्र. स्टेट मेगा एक्स्पो के समापन समारोह के दौरान यहां आए लगभग 200 एक्जिबिटर्स, बुनकरों, व्यापारियों को सम्मानित भी किया गया। एक्स्पो के सभी प्रतिभागी आयोजक उ.प्र. रेशम विभाग, खादी ग्रामोद्योग विभाग, माटीकला बोर्ड, हथकरघा, एमएसएमई, केन्द्रीय रेशम बोर्ड के प्रतिनिधि समापन समारोह में उपस्थित रहे। विशेष सचिव एवं निदेशक सुनील कुमार वर्मा जी ने आए हुआ सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया।

About ATN-Editor

Check Also

वरिष्ठ नागरिकों की आवासीय आवश्यकताओं पर मंथन

▪️समाज कल्याण विभाग द्वारा वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण और नीतिगत चर्चा के लिए हुआ विशेष …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *