Breaking News

शादी अनुदान योजना में रजिस्ट्रेशन की बाध्यता समाप्त की गयी- नरेंद्र कश्यप

 

दिव्यांगजन सशक्तीकरण एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारियों की कार्यशाला को मंत्री नरेन्द्र कश्यप ने किया सम्बोधित

प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन एवं मुख्यमंत्री के नेतृत्व में दिव्यांगजन एवं पिछड़ा वर्ग के व्यक्तियों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ा जा रहा है

विभागीय अधिकारी टीम वर्क के रूप मे कार्य कर योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाये

पिछडे़ वर्ग के युवाओं को कम्प्यूटर प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार से जोड़ा जा रहा है

दिव्यांगजनों को निशुल्क उच्च शिक्षा देने के लिए प्रदेश मे दो विश्वविद्यालय हो रहें है संचालित

दृष्टिबाधित छात्र व छात्राओं के पठन-पाठन हेतु ब्रेललिपि में पुस्तकों को प्रकाशित किया जा रहा है

विभागीय कार्मिकों के हितों का ध्यना मे रखा जा रहा है

कार्यशाला मे दिये गये सुझावों को विभागीय हित मे अपनाया जायेगा
-मंत्री नरेन्द्र कश्यप
दृष्टिबाधित छात्राओ द्वारा स्वागत गीत गाया

पूजा श्रीवास्तव

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में दिव्यांगजन एवं पिछड़ा वर्ग के व्यक्तियों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। योगी सरकार विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से दिव्यांगजन एवं पिछड़ा वर्ग के व्यक्तियों के शैक्षिक स्तर को ऊंचा उठाकर उन्हें रोजगार एवं स्वरोजगार से जोड़ रही है। यें बातें दिव्यांगजन सशक्तीकरण एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारियों की एक दिवसीय विभागीय अभिमुखीकरण कार्यशाला में प्रदेश के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) नरेन्द्र कश्यप ने डॉ. शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय, लखनऊ के सभागार कही।
उन्होंने कहा कि दिव्यांगजन सशक्तीकरण एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी विभागीय योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ दिव्यांगजन एवं पिछड़ा वर्ग के पात्र व्यक्तियों को देने का कार्य करें।

मंत्री नरेन्द्र कश्यप ने कहा कि केन्द्र एवं प्रदेश सरकार दिव्यांगजनों को उनका सही हक दिला रही है। दिव्यांगजनो को सशक्त बनाने की जिम्मेदारी को प्रदेश सरकार द्वारा अच्छे ढंग से निभाया जा रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा दिव्यांगजन के शैक्षिक पुनर्वासन के उद्देश्य से प्री रेडीनेस स्कूल के रूप में बचपन डे केयर सेन्टर्स, माध्यमिक स्तर की शिक्षा हेतु विभिन्न श्रेणी के विशेष विद्यालयों का संचालन, उच्च शिक्षा हेतु डॉ० शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय (लखनऊ), जगद्गुरू रामभद्राचार्य दिव्यांग विश्वविद्यालय (चित्रकूट) तथा प्रदेश के दृष्टिबाधित छात्र व छात्राओं के पठन-पाठन हेतु ब्रेललिपि में पुस्तकों को प्रकाशित किए जाने हेतु ब्रेल प्रेस का संचालन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पिछड़ा वर्ग के युवाओं को कौशलपरक बनाने के लिए ओ लेवल एवं सीसीसी कम्प्यूटर कोर्स संचालित किया जा रहा है। इसके माध्यम से छात्रों को कम्प्यूटर प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार से जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। पिछड़ावर्ग कल्याण विभाग के अन्तर्गत संचालित छात्रावासों का व्यापक स्तर पर सर्वेक्षण करते हुए मरम्मत कार्य कराया जाय।
प्रमुख सचिव पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तीकरण सुभाष चन्द्र शर्मा ने दौरान प्रतिभागी अधिकारियों द्वारा की गयी विभिन्न पृछाओं का निराकरण किया। विशेष सचिव दिव्यांगजन सशक्तीकरण अजीत कुमार ने दिव्यांगता की विभिन्न श्रेणियों से अवगत कराते हुए दिव्यांगजन के जीवन में आने वाली व्यवहारिक कठिनाईयों एवं उनके निराकण, सुधार हेतु उपलब्ध उपचारों, उपायों हेतु दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम, 2016 की विभिन्न धाराओं में दिए गए अधिकारों व प्राविधानों पर विस्तृत चर्चा की । निदेशक दिव्यांगजन सशक्तीकरण भूपेन्द्र एस. चौधरी तथा निदेशक पिछडा वर्ग कल्याण डॉ. वन्दना वर्मा ने विभागीय योजनाओं का विस्तार से बताया। कुलपति डॉ. शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय राणा कृष्ण पाल सिंह ने विश्वविद्यालय में दिव्यांगजनों के लिए दी जा रही सुविधाओं का उल्लेख किया।
कार्यशाला में उत्तर प्रदेश स्टार्टअप पालिसी 2020 इनोवेशन तथा एंटर प्रेन्योरशिप विषय पर तथा सेवायोजन के अवसर एवं संभावनाओ पर प्रस्तुतिकरण किया गया।

About ATN-Editor

Check Also

लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 में 70 प्रतिशत से अधिक मतदान कराये जाने का प्रयास किया जाय-मुख्य निर्वाचन अधिकारी नवदीप रिणवा

नागरिकों को जागरूक करने के लिए स्वीप गतिविधियों को तेजी से संचालित करें सभी विभाग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *