Breaking News

प्रधानमंत्री ने ग्यारहवें रोजगार मेले के तहत, विभिन्न सरकारी विभागों एवं संगठनों में नवनियुक्त कर्मियों को 51,000 से अधिक नियुक्ति पत्र वितरित

सरकारी, अर्द्ध -सरकारी,प्राइवेट, यूनिकॉर्न हर क्षेत्र में सरकार उपलब्ध करा रही है रोजगार के अवसर केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा

सूफिया हिंदी

उतर प्रदेश में लखनऊ,कानपुर और गाजियाबाद में हुआ रोजगार मेले का आयोजन कानपुर में केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री डॉ. महेंद्र नाथ पांडे, लखनऊ में केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा और गाजियाबाद में केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग और नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) डॉ. वी. के. सिंह ने वितरित किये नियुक्ति पत्र

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नवनियुक्त कर्मियों को 51,000 से अधिक नियुक्ति पत्र वितरित किये। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने नवनियुक्त कर्मियों को संबोधित भी किया।
इसी क्रम में उतर प्रदेश में लखनऊ,कानपुर और गाजियाबाद में रोजगार मेले का आयोजन हुआ। कानपुर में केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री डॉ. महेंद्र नाथ पांडे, लखनऊ में केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री श्री अजय कुमार मिश्रा और गाजियाबाद में केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग और नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) डॉ. वी. के. सिंह ने नियुक्ति पत्र किये।

लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में 11 वें रोजगार मेले को संबोधित करते हुये केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा ने कहा कि जिस तरह से हमारे देश ने हर क्षेत्र में अपनी क्षमता का परिचय दिया है,भारत पूरे विश्व में आकर्षण का केंद्र बन गया है।उन्होंने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा के माध्यम से प्रधानमंत्री ने हर नागरिक से भारत को विकसित राष्ट्र बनाने की अपेक्षा की है। उन्होनें कहा कि 2047 तक भारत को विकसित राष्ट्र बनाने के लिए प्रधानमंत्री ने जिन स्तंभों की चर्चा की है,युवा उन प्रमुख स्तंभों में सर्वप्रमुख है।केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि युवाओं को सरकारी नौकरियां दिलाने के साथ साथ सरकार ने देश की आंतरिक सुरक्षा और व्यवहारिक विदेश नीतियों के माध्यम से इस तरह का वातावरण बनाया है कि कई विदेशी निवेशक बड़ी संख्या में भारत में निवेश कर रहे है जिससे बड़ी संख्या में युवाओं के लिए प्राइवेट सेक्टर में रोजगार के अवसर पैदा हो रहे है।
मुद्रा लोन योजना के माध्यम से लगभग 40 करोड़ युवाओं को जिसमें से 60 फीसदी से अधिक महिलाएं है जिनको स्वरोजगार से जोड़ा है।
उन्होंने कहा कि जो लोग कम पढ़े लिखे है लेकिन उनके अंदर पारंपरिक हुनर है. उन्हें प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के माध्यम से मुख्यधारा में जोड़ा जा रहा है।
केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि पूरे देश में 10 करोड़ से अधिक महिलाओं को रोजगार के काम उपलब्ध कराकर स्वयं सहायता समूह से जोड़ा गया है।उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने आज महिला किसान ड्रोन केंद्र का उद्घाटन किया है जिससे महिला किसानों को स्वयं सहायता समूह के माध्यम से खेती किसानी के लिए लगभग 15000 करोड़ का लोन तीन वर्षों में दिया जाएगा जिससे बड़ी संख्या में रोज़गार का सृजन होगा।

About ATN-Editor

Check Also

लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 में 70 प्रतिशत से अधिक मतदान कराये जाने का प्रयास किया जाय-मुख्य निर्वाचन अधिकारी नवदीप रिणवा

नागरिकों को जागरूक करने के लिए स्वीप गतिविधियों को तेजी से संचालित करें सभी विभाग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *