Breaking News

खेल हमें शांति और अनुशासन की सीख देता है और लक्ष्य प्राप्ति की प्रेरणा देता है-रेणुका मिश्रा

उत्तर प्रदेश ने लहराया 35 वीं अखिल भारतीय डाक कुश्ती प्रतियोगिता परचम

उ. प्र. ने जीता डाक कुश्ती टूर्नामेंट, डाक केशरी का खिताब उत्तर प्रदेश की झोली में
7 स्वर्ण, 6 रजत तथा 4 कांस्य पदकों के साथ उत्तर प्रदेश ने प्राप्त किये सर्वाधिक पदक, प्रतीक पाण्डेय को डाक केशरी का खिताब

निलेश मिश्र

खेल हमें शांति और अनुशासन की सीख देता है और लक्ष्य प्राप्ति की प्रेरणा देता है। मेडल किसी भी खिलाड़ी के लिए उसके कई वर्षों के कठिन परिश्रम का फल है। इस प्रकार के खेल कार्यक्रमों का समय-समय पर आयोजन करते रहना चाहिए । यें बातें 35 वीं अखिल भारतीय डाक कुश्ती प्रतियोगिता का समापन समारोह पर मुख्य अतिथि पुलिस महानिदेशक, भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड, रेणुका मिश्रा ने भारतीय खेल प्राधिकरण, नेताजी सुभाष क्षेत्रीय केंद्र, लखनऊ में कहीं।

इस मौके पर चीफ पोस्टमास्टर जनरल बा. सेल्वकुमार ने विभिन्न प्रान्तों से आए खिलाड़ियों, कोच एवं मैनेजर्स को शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि सभी ने पूरे टूर्नामेंट में एकता, अनुशासन और टीम भावना का परिचय दिया। उन्होंने खिलाड़ियों को आगे भी जीत के लिए तैयारी करते रहने का सन्देश दिया।

इस टूर्नामेंट में मेजबान उत्तर प्रदेश समेत 11 प्रदेशों डाक परिमंडलों के 95 खिलाडियों ने भाग लिया। इस टूर्नामेंट के दौरान कुल 118 मैच खेले गये। डाक कुश्ती प्रतियोगिता में उत्तर प्रदेश ने अपना परचम लहराया एवं उत्तर प्रदेश के प्रतीक पाण्डेय को इस टूर्नामेंट में डाक केशरी का खिताब प्रदान किया गया सभी विजेताओं को मुख्य अथिति रेणुका मिश्रा व चीफ चीफ पोस्टमास्टर जनरल, उत्तर प्रदेश बा. सेल्वकुमार द्वारा मेडल, ट्रॉफी व प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया।

डाक कुश्ती प्रतियोगिता के अंतिम दिन ग्रीको रोमन और फ्री-स्टाइल कुश्ती प्रतियोगिता के कुल 3 मैच खेले गए। 65 किग्रा. भारवर्ग में उत्तर प्रदेश के संजय राय, 79 किग्रा. भारवर्ग में ओडिसा के केदार एवं 92 किग्रा. भारवर्ग में उत्तर प्रदेश के प्रतीक पाण्डेय ने स्वर्ण पदक प्राप्त किया। ग्रीको रोमन कुश्ती में उत्तर प्रदेश के अमलेश और फ्री स्टाइल कुश्ती में भी उत्तर प्रदेश के संजय राय को सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया। इस प्रतियोगिता में 7 स्वर्ण, 6 रजत तथा 4 कांस्य पदकों के साथ मेजबान उत्तर प्रदेश ने सर्वाधिक पदक प्राप्त किये। 5 स्वर्ण, 5 रजत तथा 3 कांस्य पदकों के साथ हरियाणा दूसरा स्थान तथा 3 स्वर्ण, 3 रजत तथा 7 कांस्य पदकों के साथ महाराष्ट्र तीसरा स्थान प्राप्त करने में सफल रहा।

इस अवसर पर एस.एफ.एच रिजवी, पोस्टमास्टर जनरल, कानपुर, कृष्ण कुमार यादव, पोस्टमास्टर जनरल, वाराणसी, राजीव उमराव, पोस्टमास्टर जनरल, आगरा, विवेक कुमार दक्ष, पोस्टमास्टर जनरल, लखनऊ, गौरव श्रीवास्तव, निदेशक प्रयागराज, राम विलास चौधरी, निदेशक गोरखपुर, आनन्द कुमार सिंह, निदेशक मुख्यालय, लखनऊ, सुबोध प्रताप सिंह, निदेशक कानपुर, आलोक ओझा, प्रवर अधीक्षक डाकघर, आर. एम. एस. विशाल कुमार पाठक, प्रवर डाक अधीक्षक, लखनऊ, हिमांशु कुमार मिश्र, सतर्कता अधिकारी, सुशील तिवारी, चीफ पोस्टमास्टर, सहायक निदेशक संतोष कुमार सिंह, खेल विकास अधिकारी अरविन्द कुमार सिंह सहित तमाम अधिकारी-कर्मचारी व खेल प्रेमी उपस्थित रहे।
स्वागत संबोधन पोस्टमास्टर जनरल, लखनऊ विवेक कुमार दक्ष व राजीव उमराव, पोस्टमास्टर जनरल, आगरा एवं आभार ज्ञापन निदेशक डाक सेवाएँ, गोरखपुर रामविलास चौधरी द्वारा किया गया। मंच संचालन अखंड प्रताप सिंह ने किया।

About ATN-Editor

Check Also

लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 में 70 प्रतिशत से अधिक मतदान कराये जाने का प्रयास किया जाय-मुख्य निर्वाचन अधिकारी नवदीप रिणवा

नागरिकों को जागरूक करने के लिए स्वीप गतिविधियों को तेजी से संचालित करें सभी विभाग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *