Breaking News

सीबीडीसी को यूपीआई के साथ यूबीआई ने एकीकृत किया

मुम्बई टीटू ठाकुर

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, भारत के सार्वजनिक क्षेत्र के एक अग्रणी बैंक, ने भारतीय रिज़र्व बैंक के तत्वावधान में यूपीआई के साथ भारत के सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी की इंटरऑपरेबिलिटी का शुभारंभ किया.

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया बैंक के डिजिटल ई-रुपी को यूपीआई प्लैटफॉर्म के साथ एकीकृत करने में अग्रणी बैंकों में है.

अब बैंक के ग्राहक यूनियन बैंक के डिजिटल ई-रुपी वॉलेट के माध्यम से किसी भी व्यापारी के यूपीआई क्यूआर कोड को स्कैन कर सकते हैं और सुरक्षित रूप से किसी भी व्यापारी को अपने यूपीआई लिंक्ड खाते से भुगतान कर सकते हैं. यह व्यापारियों को एकल क्यूआर कोड के माध्यम से यूपीआई और यूनियन बैंक डिजिटल ई-रूपी के माध्यम से भुगतान संग्रहण को सक्षम करेगा, जिससे भुगतान संग्रहण के लिए कई क्यूआर कोड की आवश्यकता नहीं रहेगी. यह सुविधा वर्तमान में पी2एम और पी2पीएम लेनदेन के लिए उपलब्ध है.

बैंक की प्रबंध निदेशक एवं सीईओए. मणिमेखलै ने बताया कि यूपीआई प्लैटफॉर्म के साथ सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी (सीबीडीसी) की इंटरऑपरेबिलिटी भारत के भुगतान तंत्र में एक महत्वपूर्ण कदम है. इस निर्बाध एकीकरण से ग्राहकों द्वारा डिजिटल मुद्रा अपनाने को बढ़ावा मिलेगा और सीबीडीसी वॉलेट का उपयोग करके लेनदेन की संख्या भी बढ़ेगी.

सीबीडीसी कार्यक्रम के तहत, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने चिन्हित किए गए 26 केंद्रों में 1.30 लाख से अधिक ग्राहकों और 15,000 व्यापारियों को पंजीकृत किया है।

 

 

 

About ATN-Editor

Check Also

सी.आई.आई. यू.पी. एम.एस.एम.ई सम्मेलन

भातीय उद्योग परिसंघ उत्तर प्रदेश ने  लखनऊ में सी.आई.आई. यू.पी. एम.एस.एम.ई सम्मेलन का आयोजन किया*, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *