Breaking News

सहकारिता के बैंकों ने साल 2023-24 में 25 हजार करोड रुपये से अधिक का किया व्यवसाय–जे0पी0एस0 राठौर

सहकारिता मंत्री ने उ०प्र० कोआपरेटिव बैंक लि० की अलीगंज शाखा के नवीन भवन का किया शुभारम्भ

अलीगंज शाखा का नवीन भवन आधुनिक बैंकिंग सुविधाओं से पूर्णतया युक्त होगा

सहकारी बैंक विभिन्न योजनाओं के माध्यम से उ०प्र० की इकोनामी को वन ट्रिलियन डालर बनाने में दे रहा योगदान

उत्तर प्रदेश के सहकारिता राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) जे०पी०एस० राठौर ने उ०प्र० को-आपरेटिव बैंक लि० की अलीगंज शाखा के आधुनिक बैंकिंग सुविधाओं से युक्त, पूर्णतया वातानुकूलित नवीन भवन का शुभारम्भ किया।

इस अवसर पर मा० मंत्री  ने बताया कि बैंक की सभी सुविधाओं को आम जनमानस तक पहुँचाकर उन्हें लाभान्वित किया जा रहा है। प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप जहाँ-जहाँ बैंकिंग सेवाएं नहीं है, वहाँ बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराई जा रही है। कल्याणकारी राज्य के रूप में सहकारी बैंक कार्य कर रहे है। सहकारी बैंक अपनी 40 शाखाओं के माध्यम से प्रदेश में ग्राहकों को आधुनिक बैंकिंग सुविधाएं यथा-यूपीआई, इन्टरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैकिंग, एम-पासबुक एवं लाकर्स आदि सभी बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं तथा बैंक द्वारा एमएसएमई योजना, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, पी०एम० विश्वकर्मा योजना एवं पी०एम० स्ट्रीट वेन्डर योजना के साथ-साथ गृह ऋण, कार ऋण, व्यक्तिगत ऋण, शिक्षा ऋण, ट्रेडर्स ऋण आदि ऋण सुविधाएं ग्राहकों को उपलब्ध कराते हुए उ०प्र० की इकोनामी को एक ट्रिलियन डालर पहुँचाने में अपनी सहभागिता सुनिश्चित कर रहा है। यह भी बताया कि उ०प्र० कोआपरेटिव बैंक द्वारा वित्तीय वर्ष-2023-24 में कुल रू० 25000.00 करोड से अधिक का व्यवसाय किया गया जिसके लिए बैंक के शीर्ष प्रबन्धन एवं कार्मिकों की प्रशंसा की गयी। इस अवसर पर मा० मंत्री जी ने बैंक के सम्मानित ग्राहक राजेश शर्मा, सी०पी० शुक्ला, अल्का अग्निहोत्री, नीतू वर्मा, संतोप कुमार गुप्ता एवं अन्य ग्राहकों को सम्मानित किया गया तथा बैंक के ग्राहक श्री रवि कुमार एवं अशीष कुमार सिंह को रू0 17.00 लाख आवास ऋण के चेक वितरित किये गये।

बैंक के अध्यक्ष  जितेन्द्र बहादुर सिंह बताया कि उ०प्र० कोआपरेटिव बैंक अपनी 40 शाखाओं के माध्यम से प्रदेश के 23 जनपदों में बैंकिंग सेवाएं प्रदान कर रहा है तथा अलीगंज शाखा द्वारा विगत 43 वर्षों से अलीगंज क्षेत्र में अपने ग्राहकों को उत्कृट कोटि की बैकिंग सेवाएं प्रदान की जा रही हैं तथा बैंक की अन्य शाखाओं को भी इसी प्रकार अत्याधुनिक बैंकिंग सुविधाओं से लैस किया जा रहा है। बैंक के प्रबन्ध निदेशक  आर०के० कुलश्रेष्ठ ने बताया कि उ०प्र० कोआपरेटिव बैंक वर्ष 1944 में स्थापित हुआ तथा तब से बैंक लगातार लाभ अर्जित कर रहा है तथा बैंक का नेट एनपीए शून्य है एवं बैंक की अलीगंज शाखा 1981 में खोली गयी तब से अनवरत क्षेत्र के लोगों को बैंकिंग सुविधाएं उपलब्ध करा रही है एवं शाखा के व्यवसाय में उत्तरोत्तर वृद्धि हो रही है। नाबार्ड द्वारा बैंक की व्यवसायिक प्रगति के आधार पर बैंक को ‘ए‘ श्रेणी प्रदान की है।

 आर०के० कुलश्रेष्ठ द्वारा बैंक के सम्मानित ग्राहकों को बैंक से लम्बे समय से जुड़े रहने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया गया एवं क्षेत्र के लोंगों से बैंक की सेवाओं से लाभान्वित होते हुए बैंक से जुड़ने की अपील की गयी। इस अवसर पर सहकारिता विभाग, उ०प्र० के वरिष्ठ अधिकारीगण एवं बैंक के संचालक मण्डल के सदस्य उपस्थित रहे।

About ATN-Editor

Check Also

उद्घाटन के बाद भी नहीं सौंप जा रहे हैं लाइटहाउस प्रोजेक्ट के लाभार्थियों के मकान

*लाइट हाउस प्रोजेक्ट लाभार्थियों ने सूडा ऑफिस पर किया प्रदर्शन,सहायक निदेशक को दिया ज्ञापन*   …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *