Breaking News

*जौनपुर जिले के प्रथम जी. आई. उत्पाद जौनपुर इमरती पर जारी किया विशेष आवरण

जौनपुर इमरती पर विशेष डाक आवरण से होगी वैश्विक स्तर पर ब्रांडिंग और व्यापक प्रचार-प्रसार- कृष्ण कुमार यादव

डाक विभाग की भूमिका में हो रहे हैं निरंतर सकारात्मक परिवर्तन – पोस्टमास्टर जनरल

सुकन्या समृद्धि योजना और महिला सम्मान बचत पत्र ने नारी सशक्तिकरण को दिए नए आयाम

अपनी ऐतिहासिक विरासतों के साथ जौनपुर खान पान के मामले में भी समृद्ध रहा है। जौनपुर की इमरती का इतिहास ब्रिटिश शासन काल (लगभग 200 वर्ष) का है। इसकी देश-विदेश में अत्याधिक मांग है। इसकी भौगोलिक विशिष्टता को देखते हुए भारत सरकार द्वारा 30 मार्च, 2024 को इसे भौगोलिक संकेतक प्रदान किया गया है। यह दर्जा प्राप्त करने वाला यह जौनपुर का प्रथम उत्पाद है। यें बातें ‘ भौगोलिक संकेतक प्राप्त जौनपुर जिले के प्रथम जी.आई. उत्पाद ‘जौनपुर इमरती’ पर विशेष आवरण व विरूपण का विमोचन करते हुए वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव ने हिंदी भवन, जौनपुर में कही।।

कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि इस पर विशेष आवरण से इसकी वैश्विक स्तर पर ब्रांडिंग और व्यापक प्रचार-प्रसार होगा। यह ‘वोकल फॉर लोकल’ की प्रधानमंत्री जी की संकल्पना को भी आगे बढ़ाता है। भारत की समृद्ध विरासत को डाक टिकटों और विशेष आवरण के माध्यम से अगली पीढ़ियों तक संचारित करने में डाक विभाग की अहम भूमिका है।

श्री यादव ने बताया कि वाराणसी क्षेत्र के आसपास के 34 उत्पादों को जीआई प्राप्त है। दुनिया के किसी भी भूभाग में यह सर्वाधिक है। इन जीआई उत्पादों से लगभग पच्चीस हजार करोड़ का सालाना कारोबार और 20 लाख लोग परोक्ष और अपरोक्ष रूप से लाभान्वित हैं।

पोस्टमास्टर जनरल ने इस अवसर पर ‘वित्तीय समावेशन महामेला में सुकन्या समृद्धि योजना, महिला सम्मान बचत पत्र तथा डाक जीवन बीमा के लाभार्थियों को पासबुक व पॉलिसी बॉन्ड भी प्रदान किए। उत्कृष्ट कार्य करने वाले डाककर्मियों को सम्मानित कर उनकी हौसला अफजाई भी की। बेटियों को श्सुकन्या समृद्धि योजनाश् की पासबुक वितरित करते हुए कहा कि इसके माध्यम से बेटियाँ आत्मनिर्भर बनेंगी तो श्आत्मनिर्भर भारतश् की संकल्पना भी साकार होगी। डिजिटल इण्डिया और वित्तीय समावेशन की संकल्पना से समाज के अंतिम व्यक्ति को जोड़ने हेतु डाक घर आज चलते-फिरते बैंक की भूमिका निभा रहे हैं। डाकघरों में एक ही छत के नीचे तमाम सेवाओं को उपलब्ध कराकर और भी कस्टमर फ्रेंडली बनाया गया है।

अधीक्षक डाकघर परमानंद कुमार ने बताया कि जौनपुर इमरती पर जारी उक्त विशेष आवरण मय विरूपण 25 रुपए में जौनपुर प्रधान डाकघर एवं फिलैटिलिक ब्यूरो, प्रधान डाकघर वाराणसी में उपलब्ध होगा।

इस अवसर पर अधीक्षक डाकघर परमानंद कुमार, आइपीपीबी सीनियर मैनेजर साक्षी सिन्हा, सहायक डाक अधीक्षक विपिन यादव, निरीक्षक डाक बलबीर सिंह, व्यास मुनि पाठक, दिलीप पांडेय, पोस्टमास्टर विष्णु देव मिश्रा सहित तमाम अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।

ग़ौरतलब है कि जौनपुर इमरती साधारण इमरती से बिल्कुल अलग होती है। इसे विशेष रूप से हल्की आंच पर पकाया जाता है और इसमें इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री में देशी चीनी (खांडसारी), देशी घी और उड़द की दालें शामिल हैं। यह इतनी मुलायम होती है कि मुंह में डालते ही घुल जाती है।

About ATN-Editor

Check Also

उद्घाटन के बाद भी नहीं सौंप जा रहे हैं लाइटहाउस प्रोजेक्ट के लाभार्थियों के मकान

*लाइट हाउस प्रोजेक्ट लाभार्थियों ने सूडा ऑफिस पर किया प्रदर्शन,सहायक निदेशक को दिया ज्ञापन*   …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *