Breaking News

=भरत मिलाप संग हुआ राम का राज्याभिषेक=

= धूमधाम से निकली भरत मिलाप शोभा यात्रा=

भगवान श्री राम के 14 वर्षों के वनवास के उपरान्त भरत से मिलने के लिए भरत मिलाप शोभा यात्रा श्री राम लीला समिति ऐशबाग के तत्वावधान में आज दोपहर निकाली गई।

भरत मिलाप शोभा यात्रा ऐशबाग रामलीला मैदान से श्री राम लीला समिति ऐशबाग के अध्यक्ष हरीशचन्द्र अग्रवाल, सचिव पं0 आदित्य द्विवेदी और कोषाध्यक्ष प्रमोद अग्रवाल की अगुवाई में पीली कालोनी, वाटर वर्क्स रोड, कोयला मण्डी, यहियागंज चौराहा, राजाबाजार, सुभाष मार्ग, रकाबगंज, नेहरू क्रास, सिद्धनाथ मंदिर, नादान महल रोड, वर्मा बस स्टाप, धर्मध्वज मंदिर चौराहे पर पहुंची जहां पर बहुत धूमधाम से भरत मिलाप कार्यक्रम हुआ। इस दौरान रास्ते में बने हुए तमाम तोरण द्वारों पर शोभा यात्रा का स्वागत किया गया, कहीं महिलाओं ने भगवान श्री राम की आरती उतारी तो कहीं भगवान श्री राम को मिष्ठान, दूध और फल खिलाए।

भरत मिलाप शोभा यात्रा के दौरान लखनऊ, उन्नाव, हरदोई, सीतापुर, बाराबंकी के लगभग 400 वाद्य कलाकारों ने प्राचीन भारतीय परम्परागत वाद्ययंत्रों यथा मोरबिन, हुड़का, लेजम, झींका, चिलमची, बगलधौंस, नगड़िया, ताशा, पिपिहरी, लिल्लीघोड़ी, मुनादी ढोल और सपेरा बीन की धुने बजाई। शोभायात्रा के दौरान हाथी, घोड़ा, बघ्घी संग सैकड़ों की संख्या में बैण्ड बाजा समूहों ने भाग लिया। भरत मिलाप शोभायात्रा में भगवान राम के सभी स्वरूप आगे आगे चल रहे थे। इसके अलावा शोभायात्रा में भगवान श्री राम, माता सीता, लक्ष्मण, हनुमान जी, भगवान शिव, माता पार्वती, राधा-कृष्ण, शबरी, अनसुइया, नल, नील, जामवन्त, इन्द्र-इन्द्राणी, यशोदा, केवट, भरत, शत्रुहन, निषादराज, परशुराम, भगवान गणेश, वाल्मीकी और तुलसीदास जी के रथ सहित तमाम देवी देवताओं के रथ शोभायात्रा की शोभा बने।

 

 

भारत की प्राचीनतम रामलीला समितियों में शुमार की जाने वाली श्री राम लीला समिति ऐशबाग के रामलीला मैदान में विगत 10 दिनों से चल रहे ’रामोत्सव-2023’ में ऐशबाग रामलीला का मंच भगवान श्री राम के जयघोष से गूंज रहा था। इस अवसर पर भरतमिलाप और राम राज्याभिषेक प्रसंगों का मनोरम मंचन भी किया गया। पुष्पवर्षा से ऐसा दृश्य परिलक्षित हो गया कि मानों ऐसा लग रहा था कि आकाश से पुष्पों की वर्षा हो रही हो। कुछ इसी मनोरम वातावरण में भगवान श्री राम का राज्याभिषेक हुआ, भगवान श्री राम के साथ माता सीता राजगद्दी पर विराजमान हुयीं। इस अवसर पर लक्ष्मण, भरत, शत्रुहन, हनुमान जी, राजा दशरथ की रानियों संग तमाम अयोध्या वासियों ने भगवान श्री राम की जयकार करते हुए पुष्पों की वर्षा की। इस दृश्य में तमाम दर्शकों की आंखें नम हो गई। राम राज्याभिषेक के दौरान राम आए अवध की ओर सजनी और सुस्वागतम सुस्वागतम गीतों पर कलाकारों ने भावपूर्ण अभिनय युक्त नृत्य प्रस्तुत कर दर्शकों को भाव विभोर कर दिया।

 

.

About ATN-Editor

Check Also

इंडो नेपाल इकनॉमिक कोऑपरेशन के संदर्भ में संभावनाओं को तलाशना

एक कार्यक्रम का आयोजन एंबेसी ऑफ नेपाल, न्यू दिल्ली ने लखनऊ में आयोजित किया गया। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *