Breaking News

गणेशगंज की डिजिटल मूविंग जन्माष्टमी झांकी सात से

लखनऊ। मित्तल परिवार की ओर से गणेशगंज अमीनाबाद रोड की डिजिटल मूविंग जन्माष्टमी झांकी 7 सितंबर से शुरू होगी। छह दिन तक अलग-अलग लीलाओं का प्रदर्शन किया जाएगा। कृष्ण जी की छठी के साथ झांकी 12 सितंबर को समाप्त होगी।
कार्यक्रम कें संयोजक अनुपम मित्तल ने बताया कि रोज बदलने वाली झांकी में पहले दिन कन्हैया जी का जन्म, दूसरे दिन उखल बन्धन लीला, तीसरे दिन गौ पूजन महत्व, चौथे दिन श्री राधा कृष्णकी अठखेलियां, पांचवें दिन श्री राधा कृष्ण का वाटिका भ्रमण और छठे दिन फूलों की होली की लीला दिखाई जाएगी। बिजली से चलने वाली प्रतिमाओं और लाइट एंड साउंड के इफेक्ट के साथ लीला के सभी दृष्यों को जीवंत दिखाने की कोशिश की जाएगी। 20 फुट का शिवलिंग, बंदर नचाता मदारी, सांप का नृत्य दिखाता स्नेक चार्मर, सीना चीरते हनुमान जी के साथ झूला झूलते राधा कृष्ण लोगों को आकर्षित करने के लिए तैयार हैं।
चंद्रमा पर चंद्रयान की सफल लैंडिंग को दर्शाते हुए एक सेल्फी प्वाइंट बनाया जा रहा है। यहां लोग चंद्रयान के साथ अंतरिक्ष यात्री की वेशभूषा में सेल्फी ले सकेंगे। नाका से लेकर न्यू गणेशगंज तक लगने वाले इस मेले में सड़क के दोनों तरफ एलईडी लाइटिंग वाले गेट लगाए जाएंगे। झांकी का सांस्कृतिक मंच भी अंतिम दो दिन कलाकारों की प्रतिभाओं से सराबोर रहेगा। 11 सितम्बर को 12 वर्ष तक के बच्चों की नृत्य एवं गायन प्रतियोगिता होगी। 12 सितम्बर को राधा कृष्ण रूपी बच्चों द्वारा फूलों की होली खेली जाएगी तथा कानपुर के शिव शनि ग्रुप द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए जाएंगे। इस मौके पर प्रतियोगिताओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले बच्चों को पुरस्कृत भी किया जाएगा।

 

About ATN-Editor

Check Also

“पर्वतमाला परियोजना” के तहत आने वाले पांच वर्षों में 1.25 लाख करोड़ रुपये की लागत से 200 से अधिक परियोजनाएं- मंत्री नितिन गडकरी

  हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता समग्र परियोजना लागत को कम करके रोपवे को आर्थिक रूप …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *