Breaking News

देश की प्रगति में शिक्षा की महत्वपूर्ण भूमिका : उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक  

ज्ञान, सदाचार, उचित आचरण, तकनीकी दक्षता – विद्या इत्यादि को प्राप्त करने की प्रक्रिया ही शिक्षा है। अच्छी शिक्षा, वह शिक्षा है, जो छात्रों को न केवल ज्ञान के आधार पर सिखाती है, बल्कि उन्हें उनके जीवन के लिए महत्वपूर्ण कौशल भी सिखाती है। शिक्षा देश के विकास और प्रगति में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। यह बात आज गांधी भवन प्रेक्षागृह में दौलत देवी इण्टर कालेज के वार्षिक उत्सव पर मुख्य अतिथि के रूप में उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने छात्र-छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कही।

उन्होने आगे कहा कि शिक्षा व्यक्ति को ज्ञानवान बनाती है। विद्यार्थी शिक्षा प्राप्त कर सांसारिक एवं आध्यात्मिक ज्ञान से परिपूर्ण हो जाता है। इस ज्ञान से उसके व्यक्तित्व का विकास होता है। शिक्षा मनुष्य को दुर्गुणो को पहचानने में मदद करती है। उन्होने कहा कि शिक्षा ही एक ऐसा माध्यम है जिससे मनुष्य में ज्ञान का प्रसार होता है और मानव की बुद्धि का विकास शिक्षा अर्जित करने से ही होता है। विद्यार्थी अच्छी शिक्षा ग्रहण कर न केवल स्वयं का बल्कि राष्ट्र के उज्जवल भविष्य का भी निर्माण करें। उन्होने बताया की दौलत गंज स्थित मन्दिर की दौलत देवी, कुल देवी हैं।

 

इसके पूर्व कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि उप-मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने दीप प्रज्जवलित कर किया। इस अवसर पर दौलत देवी कालेज के प्रमुख ओम प्रकाश अवस्थी, प्रबंधिका पूनम अवस्थी और रमेश द्विवेदी ने उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक और उत्तरी क्षेत्र के विधायक डॉ नीरज बोरा को पुष्प गुच्छ, अंग वस्त्र और स्मृति चिन्ह भेंट कर दौलत देवी सम्मान से सम्मानित किया।

 

समारोह के विशिष्ट अतिथि उत्तरी क्षेत्र के विधायक डॉ नीरज बोरा ने दौलत देवी इण्टर कालेज के छात्र-छात्राओं से कहा कि शिक्षा अंधकार में प्रकाश की किरण है। शिक्षा ही जीवन का सार है। शिक्षा व्यक्तिगत उन्नति को बढ़ाने के साथ सामाजिक स्तर में बढ़ावा, सामाजिक स्वास्थ्य में सुधार, आर्थिक प्रगति, राष्ट्र की सफलता, जीवन में लक्ष्यों को निर्धारित करने जैसी अन्य चीजों में मदद करती है। उन्होने कहा कि विद्यालय विद्यार्थियों की संस्कारशाला है।

 

समारोह की अध्यक्षता कर रहे श्री राम लीला समिति ऐशबाग के सचिव पं आदित्य द्विवेदी ने कहा कि शिक्षा एक ऐसा धन है, जो बांटने से और बढ़ता है। उन्होने कहा कि शिक्षा ही एक ऐसा शक्तिशाली माध्यम है, जिसका उपयोग दुनिया को बदलने में किया जा सकता है।

 

इस अवसर पर विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने देश भक्ति गीतों के साथ छम छम गीत पर आकर्षक नृत्य प्रस्तुत किया। इसके अलावा विद्यार्थियों ने शिक्षा थीम पर नृत्य के साथ कव्वाली और चंद्रयान -3 पर आधारित नाटक का मंचन कर लोगों को आश्चर्यचकित कर दिया, वहीं छात्र-छात्राओं ने मिले सुर मेरा तुम्हारा गीत को सुना कर अनेकता में एकता की मोहक छटा बिखेरी। धन्यवाद ज्ञापन आइशा सिद्दीकी ने दिया।

 

 

 

 

 

About ATN-Editor

Check Also

जुड़वा बहनों ने आई.एस.सी 2024 परीक्षा परिणाम कक्षा 12 मे राजधानी का नाम रौशन किया 

लखनऊ , 6 अप्रैल 2024। आज आए आई.एस.सी 2024 परीक्षा परिणाम में राजधानी के स्टेला …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *