Breaking News

सहकारी सभाओं की रजिस्ट्रेशन पर 20 लाख गुना फीस का विरोध

  • सहकारी सभाओं की रजिस्ट्रेशन पर 20 लाख गुना फीस का विरोधपंजाब सहकार भारती की प्रदेश इकाई ने पंजाब सरकार से सहकारी सभाओं की रजिस्ट्रेशन में लगाई गई सरकारी रजिस्ट्रेशन फीस का जारी फरमान वापिस लेने की मांग की है।
    स्थानीय सर्विस क्लब अमृतसर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए शंकर दत्त उत्तर क्षेत्रीय संगठन प्रमुख सहकार भारती, अश्वनी मल्होत्रा पैटर्न पंजाब सहकार भारती के प्रधान बलराम दास बावा, सरदार राजेन्द्र मरवाह इंडस्ट्रियल कोऑपरेटिव प्रकोष्ठ प्रमुख पंजाब
    ने दो टूक शब्दों में कहा कि सरकार को 25 सितंबर 2023 को जारी तुगलकी फरमान नोटिफिकेशन तुरंत वापिस लेना चाहिए।
    उन्होंने बताया कि सहकारिता लहर के तहत आर्थिक तौर से कमजोर लोगों की आर्थिकता में सुधार लाने के लिए स्वरोजगार के अवसर पैदा करने के मुख्य मकसद से सहकारी सभाओं का दशकों से गठन होता रहा है उन्होंने कहा कि अभी तक किसी भी राज्य सरकार ने 32 तरह से अधिक सभाओं की रजिस्ट्रेशन के लिए कोई भी रजिस्ट्रेशन फीस नहीं ली जाती है
    लेकिन पंजाब सरकार ने तुगलकी फरमान जारी करते हुए रजिस्ट्रेशन के लिए एक लाख से लेकर 20 लाख रुपए तक की फीस निर्धारित कर दी है जिससे सहकारी सभाओं के

About ATN-Editor

Check Also

वित्त वर्ष 2023-24 के लिए अग्रीम कर के लिए ई-अभियान

ई-अभियान के माध्यम से, महत्वपूर्ण वित्तीय लेनदेन करने वाले व्यक्तियों/संस्थाओं को ईमेल/एसएमएस के माध्यम से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *