Breaking News

’’डिजी शक्ति योजना’’ के तहत पुनर्वास विश्वविद्यालय में 1280 विद्यार्थी लाभान्वित

भारत सरकार के डिजिटल इंडिया के उद्देश्य को पूर्ण करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार केे मा0 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के मार्गदर्शन में ’’डिजी शक्ति योजना’’ शुरू की गई। यें बातें स्वामी विवेकानंद टेबलेट/ स्मार्टफोन वितरण कार्यक्रम के अवसर पर उत्तर प्रदेश सरकार के दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग, राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार नरेंद्र कश्यप ने डॉ शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय के अटल प्रेक्षागृह में कही।

मंत्री नरेंद्र कश्यप ने कहा कि इस योजना के अंतर्गत दो करोड़ टेबलेट स्मार्टफोन वितरण करने का लक्ष्य है। जिसमें 35 लाख से अधिक टेबलेट /स्मार्टफोन सरकार द्वारा वितरण किया जा चुका है। इस योजना के माध्यम से विद्यार्थियों को तकनिकी सहायता उपलब्ध कराने के लिए 3 हजार करोड़ के बजट का प्रावधान किया गया है।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो० राणा कृष्ण पाल सिंह ने कहा कि कोरोना रूपी वैश्विक महामारी ने समुचे मानव समाज को अपने तरीके से प्रभावित किया है। भारतीय शिक्षा व्यवस्था भी इससे अप्रभावित नहीं रह सकी। इस चुनौती को नये अवसर के रूप में स्वीकार करते हुये इस विश्वविद्यालय ने भी ऑनलाइन शिक्षा पद्धति को अंगीकार किया। सिर्फ इस विश्वविद्यालय में ही नहीं बल्कि पूरे उत्तर प्रदेश में आज भी कई ऐसे विद्यार्थी है, जो कमजोर आर्थिक स्थिति के कारण टैबलेट एवं स्मार्टफोन खरीदने में सक्षम नहीं है। ऐसे विद्यार्थीयों के ऑनलाइन माध्यम से शिक्षा में आ रहें व्यवधानों को दूर करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा स्वामी विवेकानन्द युवा सशक्तिकरण टैबलेट/स्मार्ट फोन योजना का शुभारम्भ किया गया।

इस अवसर पर अपने समापन वक्तव्य में सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापन करते हुए विश्वविद्यालय के कुलसचिव रोहित सिंह ने कहा कि इस योजना के तहत उच्चतर शिक्षण संस्थाओं-स्नातक, स्नातकोत्तर, डिप्लोमा, कौशल विकास, पैरामैडिकल तथा नर्सिंग आदि विभिन्न शिक्षण/ प्रशिक्षण कार्यक्रमों के अन्तर्गत अध्ययनरत छात्र बड़े पैमाने पर लाभान्वित हो रहें है। जिनके मार्गदर्शन एवं सहयोग से आज का यह महत्वपूर्ण कार्यक्रम सम्पन्न हो रहा है हम उनका आभार प्रकट करते है। हम आगे भी आप सभी के मार्गदर्शन में इस विश्वविद्यालय को नई ऊचाइयाँ दिलाने में संकल्पबद्ध रहेगें।आंधियों को जिद है जहां बिजलियां गिराने की, मुझे भी जिद है, वही आशियां बसाने की।

इस कार्यक्रम में जय नाथ यादव निदेशक दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग के साथ ही विश्वविद्यालय के समस्त संकायों के अधिष्ठाता, शिक्षकगण,अधिकारीगण, कर्मचारीगण एवं मीडिया जगत से पधारे पत्रकार बंधु उपस्थित रहे।
इस कार्यक्रम का संचालन डॉ० विजेता दुआ द्वारा किया गया. इस योजना के अंतर्गत लाभान्वित हुए 1280 विद्यार्थी में लगभग 350 दिव्यांग विद्यार्थी थे।

 

 

About ATN-Editor

Check Also

बिजनेस सिम्युलेशन पर तकनीकी उन्नति के माध्यम से कैसे बढ़ाएं मैनेजमेंट कौशल

*सीसिम बिजनेस सिम्युलेशन ओर से आयोजित सिम्युलेशन र्कशॉप में एस आर ग्रुप ऑफ़ इंस्टिट्यूशन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *