Breaking News

4500 पैक्स में भी कम्प्यूटरीकरण का कार्य शीर्ष प्राथमिकता पर किया जायेगा-जे0पी0एस0 राठौर

3000 से अधिक पैक्स इकाईयों में कम्प्यूटरीकरण का कार्य
प्रगति के अंतिम चरण में

पैक्स इकाईयों की कार्य प्रणाली में पारदर्शिता आयेगी और किसानों को ऋण आदि लेने में सरलता होगी

पूजा श्रीवास्तव

प्रदेश में कुल 7500 पैक्स इकाइयों में कम्प्यूटरीकरण का कार्य किया जा रहा है, जिनमें 3000 से अधिक पैक्स में कम्प्यूटरीकरण का कार्य अंतिम चरण में है। शेष 4500 पैक्स में भी कम्प्यूटरीकरण का कार्य शीर्ष प्राथमिकता पर किया जायेगा। यें बातें पैक्स में कम्प्यूटरीकरण कार्य की समीक्षा बैठक के दौरान उत्तर प्रदेश के सहकारिता राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) जे0पी0एस0 राठौर ने अपने विधानसभा स्थित कार्यालय में कही।

उन्होंने कहा कि कम्प्यूटरीकरण का कार्य पूरा हो जाने से पैक्स इकाईयों की कार्य प्रणाली में पारदर्शिता आयेगी और किसानों को ऋण आदि लेने में सरलता होगी और भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने में सफलता प्राप्त होगी। साथ ही संबंधितों की जवाबदेही भी सुनिश्चित होगी।
श्री राठौर ने बताया कि इस कम्प्यूटरीकरण योजना के तहत उ0प्र0 सहकारी ग्राम विकास लि0 की कुल 323 शाखाओं, 18 क्षेत्रीय कार्यालय एवं मुख्यालय सहित कुल 342 इकाईयों को कम्प्यूटरीकृत किया जायेगा। योजना की कुल लागत का 75 प्रतिशत राज्य एवं केन्द्र सरकार द्वारा 40ः60 के अनुपात में वहन किया जायेगा एवं शेष 25 प्रतिशत बैंक द्वारा स्वयं वहन किया जायेगा। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह के मार्गदर्शन में सहकारिता मंत्रालय ’’सहकार से समृद्धि’’ के विजन को साकार करने और करोड़ों किसानों को समृद्ध बनाने के प्रति कटिबद्ध है। इस दिशा में प्रदेश के कृषि और ग्रामीण विकास बैकों और सहकारी समितियों के पंजीयक कार्यालयों का कम्प्यूटरीकरण सहकारिता मंत्रालय भारत सरकार द्वारा उठाए गए कई महत्वपूर्ण कदमों से एक है।
सहकारिता मंत्री ने बताया कि केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री द्वारा 225 करोड़ रूपये की अनुमानित लागत से कृषि और ग्राम विकास बैकों और सहकारी समितियों के पंजीयक कार्यालयों का कम्प्यूटरीकरण परियोजना का शुभारम्भ किया गया।
यह कार्यक्रम सहकारिता मंत्रालय द्वारा, राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी) के सहयोग से आयोजित किया गया। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार एलडीबी में भी कम्प्यूटरीकरण कार्य को प्राथमिकता दी जा रही है और शीघ्र ही कम्प्यूटरीकरण का कार्य पूरा करा लिया जायेगा। इससे बैकों की कार्य क्षमता में बढ़ोत्तरी होगी और किसानों एवं अन्य व्यवसायियों को सुविधा प्राप्त होगी।
इस अवसर पर उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि कम्प्यूटरीकरण का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए, जिससे किसानों को लाभान्वित किया जा सके।
इस अवसर पर एमडी यूपीसीबी आर0के0 कुलश्रेष्ठ, एमडी एलडीबी शशिरंजन कुमार राव एवं अन्य अधिकारी मौजूद थे।

 

About ATN-Editor

Check Also

लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 में 70 प्रतिशत से अधिक मतदान कराये जाने का प्रयास किया जाय-मुख्य निर्वाचन अधिकारी नवदीप रिणवा

नागरिकों को जागरूक करने के लिए स्वीप गतिविधियों को तेजी से संचालित करें सभी विभाग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *