Breaking News

लोहिया नगर धमको से दहला पांच की मौत डीएम और एसएसपी भी पहुंचे

शहजाद सिकंदर

मेरठ। मंगलवार की सुबह साबुन गोदाम के अंदर विस्फोट से लोहिया नगर दहल गया धमाका इतना तेज था कि आसपास के 100 मीटर दूरी पर बने मकानों को भी दरार आ गई गोदाम के अंदर काम करने वाले पांच कर्मचारियों की चीथडे उड़ गई सभी पांच कर्मचारियों की मौत हो गई जो बाहर के बलरामपुर के रहने वाले हैं आसपास के मकान और रास्ते में जा रहे हैं 6 लोगों को भी चोट आई जिनमें तीन बच्चे हैं सभी को मेडिकल कॉलेज में उपचार चल रहा है आतिशबाजी के लिए प्रयोग की जाने वाली बंदूक की गोली और पटाखे बनाने वाले सफेद विस्फोट से हुआ है शास्त्री नगर के रहने वाले संजय गुप्ता की लोहिया नगर के ब्लॉक में सत्यकाम स्कूल से कुछ ही दूरी पर बिल्डिंग है जिसमें संजय गुप्ता ने शास्त्री नगर के सेक्टर तीन निवासी आलोक रस्तोगी और जागृति विहार निवासी संजय गुप्ता एवं बनियापडा निवासी उदय राज को बिल्डिंग किराए पर दे रखी थी बिल्डिंग के प्रथम फ्लोर पर आलोक रास्तों की का इकरीश साबुन का गोदाम था दूसरी मंजिल पर उदय राज ने प्रिंटिंग प्रेस लगा रखी थी तीसरी मंजिल पर गौरव गुप्ता प्लास्टिक का उपकरण बनाने की फैक्ट्री है फैक्ट्री की आड़ में विस्फोटक पदार्थ से पटाखे तैयार किया जा रहे थे यानी बच्चों की आतिशबाजी की बंदूक से भरने वाली गोली और स्काई शॉट बनाए जा रहे थे जिसमें सफेद विस्फोटक भरा जा रहा था मंगलवार की सुबह 7रू20 पर अचानक तेज धमाका हुआ सभी कर्मचारी बिल्डिंग से बाहर भागे तभी पूरी तरह से झुलस चुके थे आसपास 100 मीटर की दूरी पर बने मकानों में भी दरार आ गई है निकट स्थित एक दूसरी बिल्डिंग का पहली मंजिल की छत भी गिर गई विस्फोट के कारण इलाके में भगदड़ मच गई कुछ हादसा समझ कर बाहर निकले तो कुछ इस भूकंप समझने लगे घटना की सूचना मिलने के बाद पहुंची पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया और मलबा हटाकर नीचे दबे सभी घायलों को अस्पताल पहुंचाया चार लोगों की मौत रास्ते में हो गई जबकि देर शाम एक ने अस्पताल में दम तोड़ दिया आसपास के मकान और रास्ते से जा रहे गए लोगों को भी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराएगा पुलिस ने गौरव गुप्ता की पत्नी और उदय राज रस्तोगी और उनके एक रिश्तेदार अनुज रिश्ते को हिरासत में ले लिया है गौरव गुप्ता अभी फरार चल रहा है मलबा हटाते समय 8रू30 बजे दूसरा धमाका फिर से हो गया मलबा में लगे सिपाही विनय मलिक जेसीबी चालक धर्मेंद्र सुखबीर भी पत्थर लगने से घायल हो गए डीएम दीपक मीणा और एसएसपी रोहित सिंह सांगवान ने उल्टे पांव दौडकर जान बचाई इसके बाद मलबा से सभी को दूर कर दिया गया एनडीआरएफ की टीम और डॉग स्क्वायड को बुलाकर मलबे को हटाना शुरू किया इससे पहले भी दमकल की टीम ने पूरे मलबे को पानी डाल दिया था ताकि विस्फोट ना हो सके

़़़़़़़़़़़़़़़़़ एसएसपी रोहित संगवान का कहना है साबुन के गोदाम में विस्फोट होने से बिहार के पांच कर्मचारियों की मौत हो गई है जबकि कई लोग गंभीर रूप से घायल है गोदाम स्वामियों के परिजनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वाड को लगाकर धमाके की वजह की पड़ताल की जा रही है गौरव गुप्ता के गोदाम में केमिकल के ड्रम भी मिले हैं पुलिस ने कब्जे में ले लिया है

 

About ATN-Editor

Check Also

मेरठ थाना भावनपुर क्षेत्र में भांजी के अफेयर के शक में मामा ने भांजी की गला दबाकर की हत्या

मेरठ थाना भावनपुर क्षेत्र में भांजी के अफेयर के शक में मामा ने भांजी की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *