Breaking News

स्टार्टअप नीति-2020 (प्रथम संशोधन) से मिलेगी गति

प्रदेश में 04 नये उत्कृष्टता केन्द्रों की स्थापना को मंजूरी

अमृतसर-कोलकाता इंडस्ट्रियल कॉरिडोर की स्थापना के अंतर्गत प्रयागराज और आगरा में 01-01 इंटीग्रेटेªड मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर्स की होगी स्थापना

मा0 मंत्री परिषद की बैठक में उ0प्र0 स्टार्टअप नीति-2020 (प्रथम संशोधन) के अंतर्गत प्रदेश में 04 नये उत्कृष्टता केन्द्रों की स्थापना किये जाने में आर्थिक सहायता प्रदान किये जाने के प्रस्ताव पर अनुमोदन प्रदान कर दिया गया है। इसके अंतर्गत दूर संचार के क्षेत्र में आईआईटी रूड़की (सहारनपुर परिसर) तथा आईआईटी कानपुर में, ब्लॉकचेन के क्षेत्र में आईआईएम लखनऊ (नोएडा परिसर) तथा एडिटिव मैन्यूफैक्चरिंग क्षेत्र के अंतर्गत अजय कुमार गर्ग इंजीनियरिंग कालेज गाजियाबाद में उत्कृष्टता केन्द्रों की स्थापना के लिए मंजूरी प्रदान की गयी। प्रदेश सरकार द्वारा उ0प्र0 स्टार्टअप नीति-2020 (प्रथम संशोधन) के अंतर्गत 08 उत्कृष्टता केन्द्रों की स्थापना का लक्ष्य रखा गया है। पहला उत्कृष्टता का केन्द्र मेड टेक (स्वास्थ्य-प्रौद्योगिकी) के क्षेत्र में संजयगांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस में साफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क्स ऑफ इंडिया भारत सरकार के सहयोग से कार्यरत हो गया है। इसके अतिरिक्त नीति के अंतर्गत आईआईटी कानपुर तथा फिक्की के सहयोग से नोएडा में आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस एण्ड इनोवेशन ड्रिवेन इंटरप्रिन्योरशिप सेंटर ऑफ एक्सीलेंश की स्थापना की गया है तथा तीसरे सेंटर ऑफ एक्सीलेंश की स्थापना आईआईटी कानपुर में यूपीडा के सहयोग से ड्रोन तकनीक के क्षेत्र में प्रक्रियाधीन है।
इन उत्कृष्टता केन्द्रों द्वारा दूरसंचार क्षेत्र, 3डी प्रिटिंग तथा ब्लॉकचेन सहित उभरते प्रौद्योगिकी क्षेत्रों के नये स्टार्टअप्स को हैड होल्डिंग तथा मेन्टरशिप सहायता प्रदान की जायेगी और स्टार्टअप्स को संबंधित उद्योगों की सहायता से प्रौद्योगिकी का व्यवसायीकरण होगा।
इसी के साथ मा0 मंत्री परिषद की बैठक में भारत सरकार की अमृतसर-कोलकाता इंडस्ट्रियल कॉरिडोर की स्थापना के अंतर्गत प्रयागराज और आगरा में 01-01 इंटीग्रेटेªड मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर्स की स्थापना हेतु राज्य सरकार, यूपीसीडा एवं केन्द्र सरकार की कार्यदायी संस्था नेशनल इंडस्ट्रियल कॉरिडोर डेवलपमेंट एण्ड इम्पलीमेंटेशन ट्रस्ट के मध्य हस्ताक्षरित किये जाने वाले त्रिपक्षीय स्टेट सपोर्ट एग्रीमेंट के आलेख पर, यूपीसीडा और नेशनल इंडस्ट्रियल कॉरिडोर डेवलपमेंट एण्ड इम्पलीमेंटेशन ट्रस्ट के मध्य हस्ताक्षरित किये जाने वाली द्विपक्षीय शेयर होल्डर्स एग्रीमेंट्स के आलेख पर तथा एसपीवी के गठन के लिए आर्टकिल्स ऑफ एसोसिएशन एवं मेमोरेण्डम ऑफ एसोसिएशन के आलेख पर मा0 मंत्री परिषद द्वारा अनुमोदन प्रदान किया गया।
भविष्य में स्टेट सपोर्ट एग्रीमेंट में किसी संशोधन को करने के लिए मुख्यमंत्री जी एवं शेयर होल्डर्स एग्रीमेंट में किसी संशोधन के लिए मा0 मंत्री जी औद्योगिक विकास विभाग को अधिकृत किये जाने के प्रस्ताव पर भी मा0 मंत्री परिषद द्वारा अनुमोदन प्रदान कर दिया गया है। इंटीग्रेटेªड मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर्स की स्थापना से प्रदेश के आर्थिक विकास को गति प्राप्त होगी, औद्योगिक विकास को बढ़ावा मिलेगा और रोजगार के नये अवसर सृजित होंगे।

About ATN-Editor

Check Also

उद्घाटन के बाद भी नहीं सौंप जा रहे हैं लाइटहाउस प्रोजेक्ट के लाभार्थियों के मकान

*लाइट हाउस प्रोजेक्ट लाभार्थियों ने सूडा ऑफिस पर किया प्रदर्शन,सहायक निदेशक को दिया ज्ञापन*   …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *