Breaking News

सभी पैथीं को एक साथ लेकर चलना अपने आप में सराहनीय काम है-पवन सिंह चौहान

 

एसोसियेशन आफ़ इंटीग्रेटेड मेडिसिन की कॉन्फ्रेंस – 2023

एसोसिएशन का सारी पैथीं को एक साथ लेकर चलना अपने आप में सराहनीय काम है। मुझे लगता है की ये पहली एसोसिशन है जो सारी पैथिओं का स्वागत करती है।मैं एसोसिएशन की कामयाबी के लिए शुभकामनाएं देता हूं। यें बातें एसोसियेशन आफ़ इंटीग्रेटेड मेडिसिन की कॉन्फ्रेंस – 2023 के मुख्य अतिथि एम एल सी एवं एस आर गु्रप के अध्यक्ष पवन सिंह चौहान ने
आई एम ए भवन में कही।

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के थाना कैसरबाग के आई एम ए भवन में का आयोजन किया गया। जिसमे सभी पद्धति के तमाम डॉक्टर्स को आमंत्रित किया गया था।जिसमे बड़ी संख्या में डाक्टर्स मौजूद भी रहे। इस कार्यक्रम में पवन सिंह चौहान जो की एम एल सी के साथ ही एस ० आर ० ग्रुप के चेयरपर्सन भी है चीफ गेस्ट के रूप में मौजूद रहे। इस अवसर पर

पवन सिंह चौहान ने कहा की कार्यक्रम में एसोसियेशन ने शहर के बेहतरीन लैक्चरर को भी आमंत्रित किया था, जिसमे प्रोफेसर डा ०बी ०एन ०सिंह जो कि आरोग्य भारती इंडिया के नेशनल वर्किंग प्रेसीडेन्ट है। जिन्होंने बखूबी समझाया मनुष्य की लाइफ स्टाइल कैसी होनी चाहिये और रोज़आना ऐसा क्या करे जिससे हम पूरी तरह स्वस्थ रहे।

इस मौके पर प्रोफेसर अलीम सिद्दीकी जो कि हेल्दी माइंड न्यूरोसकिट्रिक सेंटर के डायरेक्टर भी हो उन्होंने अपने टापिक – डिप्रेशन में बताया कि हम कुछ बातों को ध्यान में रख कर डिप्रेशन को कंट्रोल कर सकते है।
डा० कमरुल हसन लारी,रीडर डीपार्टमेन्ट ऑफ कुल्लीयात – स्टेट युनानी मेडिकल कालेज एंड हास्पिटल – प्रयागराज . डा० अनीता सिंह, डायरेक्ट के. के. हस्पिटल, डा० अजय कुमार तिवारी असिस्टेन्ट प्रोफेसर स्टेट आयुवेदिक कालेज लखनऊ, डा लुबना कमाल, होमियोपैथिक नेफ्रोलोजिस्ट ने बहुत ही उपयोगी जानकारी से अवगत कराया।और गेस्ट आफ आनर में प्रो० (डा०) डी. के. सोनकर (प्रिसिपल एन. एच. एम. सी० हास्पिटल) प्रो० (डा ०) माखनलाल – प्रिसिंपल स्टेट आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, प्रो० डा० अब्दुल हलीम – प्रिसिंपल इरम युनानी मेडिकल कालेज, डा० यू० बी० सिंह ए० सी० एम० ओ० बाराबंकी और डा० सलमान खालिद – फाउन्डर चेयरमेन फेहमिना हर्बलस प्राइवेट लिमिटेड ,कांफ्रेंस में उपस्थित रहें।
आमंत्रित लेक्चरर्स की मदद से बहुत कुछ सीखने को मिला जो समाज में चिकित्सा के क्षेत्र काफी उपयोगी होगा

 

 

About ATN-Editor

Check Also

भारतीय नववर्ष मेला एवं चैती महोत्सव 9 अप्रैल से 

      लखनऊ , 7 अप्रैल 2024। तुलसी शोध संस्थान उत्तर प्रदेश के अंतर्गत …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *