Breaking News

वरिष्ठ नागरिकों की आवासीय आवश्यकताओं पर मंथन

▪️समाज कल्याण विभाग द्वारा वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण और नीतिगत चर्चा के लिए हुआ विशेष सत्र
▪️विभिन्न आय वर्गों के वरिष्ठ नागरिकों के आवासीय सुविधा पर हुई चर्चा
▪️वरिष्ठ नागरिक नीति संवाद में वरिष्ठ नागरिक पोर्टल और अभ्युदय पोर्टल लॉन्च
बयान –
“डबल इंजन की सरकार निरंतर वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा, स्वास्थ्य और सम्मान के लिए कार्य कर रही है। वरिष्ठ नागरिक नीति संवाद के माध्यम से निम्न, मध्य एवं उच्च आय वर्ग के वरिष्ठ जनों के लिए आवासीय सुविधाओं को प्रदान किए जाने हेतु नीति पत्र तैयार कर भविष्य की कार्ययोजना बनाई जाएगी।“ – श्री असीम अरुण , समाज कल्याण राज्य मंत्री (स्व. प्र.), उ. प्र. ।

प्राग नारायण रोड स्थित निदेशालय समाज कल्याण के सभागार में वरिष्ठ नागरिक नीति संवाद का आयोजन किया गया। तीन सत्रों में हुई परिचर्चा में वरिष्ठ नागरिकों से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर विचार विमर्श एवं चर्चा की गई। कार्यक्रम में असीम अरुण, समाज कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र भार), डॉ. हरिओम, प्रमुख सचिव, समाज कल्याण, कुमार प्रशांत, निदेशक समाज कल्याण, कृष्णा प्रसाद, उपनिदेशक, समाज कल्याण, डॉ. अनीता भटनागर जैन, सुभाष चंद्र, डॉ. अभिषेक शुक्ला, ए के सिंह, रवि भट्ट आदि विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञ मौजूद रहे।
इस मौके पर उत्तर प्रदेश वरिष्ठ नागरिक पोर्टल और प्रदेश के युवा प्रतियोगी अभ्यर्थियों के लिए अभ्युदय पोर्टल का लोकार्पण किया गया।

पहले सत्र में वंचित और निराश्रित वरिष्ठ नागरिकों के लिए आवासीय सुविधा पर चर्चा की गई। असीम अरुण, राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) समाज कल्याण ने वृद्धजनों हेतु पोर्टल लॉन्च करते हुए बताया कि पोर्टल पर वृद्धजनों को वृद्धाश्रम को लेकर आवश्यक जानकारी मिलेगी। कार्यक्रम में विभागीय अधिकारियों द्वारा प्रस्तुतीकरण किया गया। वक्ताओं ने वरिष्ठ नागरिकों की आवासीय सुविधा पर परिचर्चा की। वहीं, दूसरे सत्र में मध्यम वर्ग एवं तीसरे सत्र में संपन्न वर्ग से संबंधित आवासीय सुविधाओं पर संवाद किया गया। चर्चा के दौरान विभिन्न आय वर्ग के वरिष्ठ जनों की समस्याओं, उनकी शारीरिक, मानसिक एवं भावनात्मक आवश्यकताओं के अनुरूप उपस्थित विशेषज्ञों द्वारा अपने विचार रखे गए, जिसमें सरकारी पहल के साथ ही एनजीओ, एवं कम्युनिटी आधारित प्रयासों को सम्मिलित करते हुए वरिष्ठ नागरिक नीति पत्र बनाने पर सहमति व्यक्त की गई। इस अवसर पर स्मृति चिह्न वितरण किया गया।

वृद्धाश्रमों में दी जा रहीं सुविधाएं
समाज कल्याण विभाग द्वारा प्रदेश के समस्त 75 जनपदों में वृद्धाश्रम संचालित किया जा रहा है। इन आश्रमों में वृद्धजनों को खाना, गर्म कपड़े, दवाई, मनोरंजन के साधन आदि उपलब्ध कराया जाता है।विभाग द्वारा प्रदेश के 53 लाख वृद्धजनों को पेंशन योजना का लाभ प्रदान किया जा रहा है। साथ ही वरिष्ठ नागरिक नीति के क्रियान्वयन के लिए नोडल विभाग के रूप में कार्य कर रहा है।

 

 

 

About ATN-Editor

Check Also

लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 में 70 प्रतिशत से अधिक मतदान कराये जाने का प्रयास किया जाय-मुख्य निर्वाचन अधिकारी नवदीप रिणवा

नागरिकों को जागरूक करने के लिए स्वीप गतिविधियों को तेजी से संचालित करें सभी विभाग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *